Followers

Monday, 27 November 2017

Rishte रिश्ते




रिश्तों को ख़त्म 
होने के लिए 
किसी बड़ी वजह की 
जरुरत नहीं 
एक ने कहा 
दूसरे ने सुना नहीं
उसने दुबारा कहने का
कष्ट नहीं किया 
दूसरे ने पूछना 
अपमानजनक समझा 
न किसी ने कुछ सोचा 
न पूछा, ना समझा 
और हो गया 
रिश्तों में बिखराव
इसी के साथ ही
पहन लिया दोनों ने
मुस्कुराहटों का मुखौटा 
मन में लिए तल्ख़ 
अहसासों के साथ


No comments:

Post a Comment